शनिवार, 21 अप्रैल 2018

Facebook new status in hindi

                     Facebook new status in hindi

GF कहती  है  कि  अकेला  है  तु 
   मगर , मोहल्ले  की  लड़किया 
कहती  है  कि  लाखो  में  एक  है 
               तु.. 






   अगर  आखिर  में  जुदाई  ही 
होनी  थी  तो  उसने  मिलाया  ही 
  क्यों ,कभी कभी  तो लगता  है 
कही  उस  ुपरबाले  को  खेलने 
         का  शौक  तो  नहीं। 








      अगर  समझ  पाते  तुम  मेरी 
चाहत  की  इंतहा  तो ,हम  तुमसे 
नहीं , तुम  हमसे  हमसे  मुहब्बत  करते .....


      अच्छे  दोस्तों  की  तलाश  तो 
कमजोर  दिल  बालो  को  होती 
है ,बड़े  दिल  वाले  तो  हर  दोस्त 
       को  अच्छा  बना  लेते  हैं। 




     अजीब  चलन  है  दुनिया  का 
दीवारों  मैं आये  दरार  तो  दीवारे 
 गिर  जाती  हैं  पर   रिश्तो  मैं  आये 
     दरार  तो  दीवारे  खड़ी  हो  जाती  
              हैं। 


  अजीब  नींद  मेरे  नसीब  में 
लिखी  है.... पलकें  बंद  होती  हैं 
  तो  दिल  जाग  जाता  है। 



   अपनी  भूख  का  इल्जाम  उस 
खुदा  को  ना  दे , वो  माँ  के  पेट  में 
      भी  बच्चे  को  पाल  देता  है। 


आमिर  तो  हम  भी  बहुत  थे , पर 
  दौलत  सिर्फ  दिल  की  थी। 


    असल  में   वही  जीवन  की  चाल 
समझता  हैं , जो  सफ़र  की  धूल 
    को  गुलाल  समझता  है। 



आज  तोहफा  लाने  निकला  था 
    शहर  में  तेरे  लिए , कमबख्त 
खुद  से  सस्ता कुछ  ना  मिला। 


इंसान  दीवारें  बनता  है  और 
    उसके  बाद  यह  सोचकर 
 परेशान ... होता  रहता  है  कि 
दीवार  के  पीछे  क्या  हो  रहा  है। 







       इंसान  के  जिस्म  का  सबसे 
खूबसूरत  हिस्सा  दिल  है  और ,
  अगर  वो  ही  साफ  ना  हो  तो 
चमकता  चेहरा  किसी  काम  का 
     नहीं। 

     उससे  कह दो  कि  मेरी  सजा 
  कुछ  कम  कर  दे , हम  पेशे  से 
मुजरिम  नहीं   बस  गलती  से 
        इश्क  हुआ   था। 


 ए  खुदा  रखना  मेरे  दुश्मनो  को 
   भी  महफूज , वरना  मेरी  तेरे 
    पास  आने  की  दुवा  कौन 
                करेगा। 


एक  मशविरा  चाहिए , ख़ुदकुशी 
          करू  या  इश्क। 



एक  सवेरा  था  जब  हंस  कर 
 उठते  थे  हम  और  आज  कई 
बार , बिना  मुस्कुराये  ही  शाम 
       हो  जाती  है। 




ऐ  आशिको  का  पेज  है  यहा 
  दिन  सूरज  से। , नहीं  दीदार  से 
              हुआ  करते  है। 


   ऐसा  नहीं  है  कि  मुझमे  कोई 
 एब  नहीं  हैं , पर  सच  कहता  हूँ 
      मुझमे  कोई  फरेब  नहीं  है। 


     कभी  भूल  के  भी  मत  जाना 
  मुहब्बत  के  जंगल  में , यंहा 
सांप  नहीं  हम  सफ़र  डसा  करते 
           है। 





कमाल  तेरे  नखरे , कमाल  का 
  तेरा  श्टाइल  हैं , बात  करने  कि 
     तमीज  नहीं , और  हाँथ  में 
           मोबाइल  है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें