बुधवार, 25 जुलाई 2018

अनमोल वचन हिंदी 10 | Quotes Hindi | Hindi quotes vchan | हिंदी वचन

 अनमोल  वचन  हिंदी  10 | Quotes Hindi | Hindi quotes vchan | हिंदी वचन   



 Quotes Hindi | Hindi quotes vchan


hindi,quotes,vchan,anmolvchan




जो  मदिरा के  पात्र  को तोड़कर फ़ेंक  सकता  है ,
उसे मदिरा से घृणा  की आवश्कता  ही क्या है। 



hindi,quotes,anmol, vchan,



जंहा  संरक्षित  दोष  नहीं ,
वंहा  सुरक्षित  घृणा  नहीं संभव  नहीं। 




hindi,quotes,anmol,vchan




दुर्बल  चरित्र  का व्यक्ति  उस  सरकंडे  जैसा,
है जो हवा  के हर  झोंके  पर  झुक  जाता  है। 







यह  चरित्र  ही है  जो विपत्तियों  की अभेघ  दीवारों  में  से ,
भी मार्ग  बना लेता है। 



Quotes Hindi | Hindi quotes vchan

hindi,quotes,anmol,vchan



चरित्र  ही शूद्र ही सारे ज्ञान  का ध्येय  होना चाहिए। 




hindi,quotes,anmol,vchan




कोई भी व्यक्ति स्वापन  देख  देखकर  चरित्रवान  नहीं बन सकता ,
चरित्र निर्माण  तो अपने  आपको  गढ़  गढ़कर 
ढाल ढालकर  करना होता है। 




hindi,quotes,anmol,vchan




चरित्र  एक  ऐसा हीरा  है ,
जो हर पाषाण  को घिस सकता है। 




Quotes Hindi | Hindi quotes vchan

hindi,quotes,anmol,vchan 





चरित्रों  से मनुष्य  नहीं बनता। 
मनुष्य  ही चरित्रों  का निर्माण  करते  हैं। 





hindi,quotes,anmol,vchan





गुण   एकांत  मैं भली भांति  विकसित  होता हैं। 
जबकि चरित्र   का  निर्माण  संसार  के भीषण  कोलाहल  में  ही होता है। 




Quotes Hindi | Hindi quotes vchan

hindi,quotes,anmol,vchan




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें